Becoming Transcendental to The Laws of Karma

One who comes to the platform of intelligence to understand that rather than serving the cause of material advancement he should serve the cause of Krishna, becomes transcendental to the stringent laws of karma.

BG 1.9 Hindi

कुरुक्षेत्र के युद्धस्थल में सैन्यनिरीक्षण धृतराष्ट्र उवाच कोई च बहावंश्र मद-अर्थेत्यक्त-जीवित: नाना-शास्त्र-प्रहारणां सर्वेयुद्ध-विशारदा: और भी कई वीर हैं जो मेरी Read more

BG 1.8 Hindi

कुरुक्षेत्र के युद्धस्थल में सैन्यनिरीक्षण धृतराष्ट्र उवाच bhavān bhīṣmaś ca karṇaś cakṛpaś ca samitiṁ-jayaḥaśvatthāmā vikarṇaś casaumadattis tathaiva ca आप जैसे Read more

BG 1.7 Hindi

कुरुक्षेत्र के युद्धस्थल में सैन्यनिरीक्षण धृतराष्ट्र उवाच अस्माकां तू विशिष्टता येतन निबोध द्विजोत्तमनायक मामा सैन्यास्यसंज्ञार्थः तन ब्रवं ते लेकिन आपकी Read more

BG 1.6 Hindi

कुरुक्षेत्र के युद्धस्थल में सैन्यनिरीक्षण धृतराष्ट्र उवाच युद्धमन्यु चविक्रांत उत्तमौजां च वीर्यवन सौभद्रोद्रौपदेय: चसर्व एव महा-रथ: शक्तिशाली युधामन्यु, बहुत शक्तिशाली Read more

BG 1.5 Hindi

कुरुक्षेत्र के युद्धस्थल में सैन्यनिरीक्षण धृतराष्ट्र उवाच धृतकेतुं सेकितानांकाशीराजं च वीर्यवन पुरुजित कुंतीभोजं चशैब्यं चनारा-पुंगव: धृतकेतु, सेकिताना, काशीराज, पुरुजित, कुन्तिभोज Read more

BG 1.4 Hindi

कुरुक्षेत्र के युद्धस्थल में सैन्यनिरीक्षण धृतराष्ट्र उवाच अत्रश्र महेव-आसा भीमार्जुन-समा युधि युयुधनो विराणं च द्रुपदंचमहा-रथ: यहाँ इस सेना में भीम Read more

Leave a Comment